Indira Rasoi Yojana 2022- जानिए पूरी जानकारी

Indira Rasoi Yojana 2022- In This Post Check Indira Rasoi Yojana 2022 Eligibility, Benefits, Application Process And Other Information Here.

हमारे देश में गरीबी काफी ज्यादा है। कुछ राज्य में तो लोग तो इतने गरीब हैं, कि उनको दो समय का खाना खाने के लिए भी संघर्ष करना पड़ता है। जिनमें से उन राज्यों में से एक राजस्थान भी है । दरअसल राजस्थान में कुछ लोग और मजदूर आर्थिक स्थिति से जूझ रहे हैं और वह रात को खाना खाकर भी नहीं सोते। जिसको देखते हुए राजस्थान की सरकार ने  अपने राज्य के उन गरीब लोगों के लिए इंदिरा रसोई योजना की शुरुआत की है। राजस्थान सरकार हमेशा से ही अपने प्रदेश के नागरिकों की सहायता के लिए प्रयासरत रहती है।  इस बार भी उन्होंने नागरिकों की सहायता करने के लिए बेहद ही अच्छा कदम उठाया है। राज्य सरकार ने यह संकल्प लिया है कि,” राज्य में कोई भी भूखा न सोए”।

Indira Rasoi Yojana Rajasthan के तहत जरूरतमंद और गरीब लोगों को केवल ₹8 में एक समय का भरपेट भोजन मिलेगा। यानी कि गरीब लोग मात्र ₹16 देकर दो समय का भोजन कर पाएंगे। अभी हम आपको बताएंगे कि राजस्थान सरकार ने कब से इस योजना की शुरुआत की? क्या है Rajasthan Indira Rasoi Yojana इस योजना के उद्देश्य? कैसे इस योजना का लाभ मिलेगा और क्या है पूरी जानकारी, यह सब जानने के लिए आप हमारे इस लेख में अंत तक बने रहिएगा।

What is Indira Rasoi Yojana

 राजस्थान सरकार के द्वारा यह बेहद ही अच्छा कदम उठाया गया है। पहले इस योजना का नाम अन्नापूर्ण योजना था। जिसको बाल में बदलकर इंदिरा रसोई योजना कर दिया गया।  इस योजना का नाम हमारे देश के महान लीडर और पूर्व  प्रेसिडेंट श्रीमती इंदिरा गांधी के नाम पर रखा गया है। जिनकी पूरी जिंदगी गरीब और जरूरतमंद लोगों को समर्पित रही।  इंदिरा रसोई योजना के तहत  राजस्थान में रहने वाले जरूरतमंद लोगों को नाम मात्र शुल्क केवल ₹16 में ही दो समय का भोजन दिया जाएगा ।

अक्सर देखा गया है राजस्थान में जो लोग मजदूरी करते हैं या फिर आर्थिक परिस्थितियों से जूझ रहे हैं। वह अपने दो समय का भोजन भी afford नहीं कर पाते हैं। उनके लिए यह योजना वरदान साबित होने वाली है । इस योजना की शुरुआत राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी ने 20 अगस्त 2020 में की है । Indira Rasoi Yojana Rajasthan के अंतर्गत 213 नगरों में 358 रसोई बनवाई जा चुकी है। जिससे कि राजस्थान प्रदेश के मजदूरों को आसानी से भोजन दिया जा सकेगा लाभान्वित किया जाएगा। जिसके लिए प्रदेश के  सभी गरीब मजदूर और जरूरतमंद नागरिक पात्र हैं इस योजना के लिए आप  online और offline दोनों तरीके से आवेदन कर सकते हैं। इसलिए के अंत में हम आपको पूरी प्रोसेस बताएंगे कैसे आप इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

Indira Rasoi Yojana 2022 Objectives

  • राजस्थान सरकार ने इंदिरा रसोई योजना की शुरुआत राज्य के लोगों की भलाई के लिए की है। जिसके लिए उन्होंने 1 साल का बजट 100 करोड़ से भी ज्यादा रुपए का रखा है। आप अनुमान लगा सकते हैं कि इतने रुपए के बजट से सरकार ने इस योजना के कई उद्देश्य रखे होंगे।
  •  इस योजना से राजस्थान सरकार का यह संकल्प है कि प्रदेश में कोई भूखा ना सोए जिसका मतलब है कि राजस्थान की सरकार नहीं चाहती कि उनके प्रदेश का कोई भी लोग बिना भोजन किए सोए। इसीलिए ही राजस्थान की गवर्नमेंट ने इस योजना का शुभारंभ किया है।
  • इस योजना के तहत राजस्थान सरकार का यह उद्देश्य है कि राज्य के गरीब और आर्थिक तंगी से जूझ रहे लोगों को ना के बराबर दाम में पोस्टिक और भरपेट भोजन दिया जाए।
  • हर रोज 1.34 लाख  लोग तो वहीं हर साल 4.87 करोड़ लोगों को खाना प्रदान कराना इस योजना का मुख्य उद्देश्य है, जरूरत के हिसाब से लोगों की संख्या को बढ़ाया भी जा सकता है।
  • इस योजना का लाभ लेकर प्रदेश के नागरिक मात्र ₹8 में एक समय का खाना तो वही मात्र ₹16 में दोनों समय का खाना खा सकते हैं। जिससे कि राजस्थान सरकार का उद्देश्य साफ है । कुल मिलाकर हम कह सकते हैं कि राजस्थान राज्य ने इस योजना की शुरुआत अपने प्रदेश के नागरिकों की भलाई के लिए ही की है।

Also Read This-

Indra Rasoi Yojana Benefits

  • इस योजना के तहत प्रदेश के जरूरतमंद और गरीब लोगों को दो वक्त का पौष्टिक खाना मिल पाएगा और वह रात को भूखे पेट नहीं सोएंगे।
  •  सरकार ने राज्य के जरूरतमंद लोगों को खाना खिलाने के लिए विशेष प्रकार की कैंटीन की व्यवस्था की है । आपको बता दें वैसे तो इस योजना के अनुसार खाना खाने के लिए एक प्लेट की कीमत ₹20 है लेकिन इनमें से जरूरतमंद लोगों को सिर्फ 8 ही रुपए देने होंगे बाकी ₹12 का खर्च प्रदेश सरकार खुद उठाएगी।
  •  रसोई योजना के अनुसार एक्सटेंशन काउंटर के तहत खाना Provide कराया जाएगा। इसके अलावा राजस्थान सरकार ने अपना बजट बढ़ाने और जरूरतमंद लोगों को और अधिक सहायता देने के लिए NGO से फंड की मांग की है।
  •  इस योजना के तहत प्राकृतिक आपदाओं के समय जरूरतमंद लोगों को फ्री में खाना Provide कराया जाएगा।
  •  इसके अलावा इस योजना के तहत 2021 में रेलवे स्टेशन पर भी बेहद कम दाम में खाना दिया जा चुका है। इस योजना के माध्यम से बेहद सस्ता और पौष्टिक खाना रेलवे गेट पर प्रदान किया जाएगा। वर्तमान में झालावाड़ और करौली रेलवे क्रॉसिंग गेट पर इंदिरा रसोई ओपन की जा चुकी है। जिससे कि वहां के यात्रियों को अच्छा और पौष्टिक खाना खाने के लिए कोई परेशानी ना हो।
  • आपको बता दें सरकार ने इस योजना के तहत 100 ग्राम दाल ढाई सौ ग्राम रोटी आचार और 100 ग्राम सब्जी देने का आदेश प्रदेश के जरूरतमंद और गरीब लोगों को जारी किया है।
  • इसके अलावा सरकार इस योजना का भी ध्यान रखेगी की खाने की गुणवत्ता कैसी है इसको समय-समय पर  जिला स्तरीय समितियों के द्वारा Check किया जाएगा। अगर वह खाने की गुणवत्ता में कुछ भी कमी निकालते हैं, तो फिर जिला कलेक्टर के द्वारा इस बात की शिकायत की जाएगी ।
  • Indira Rasoi Yojana Rajasthan के तहत भोजन का शुल्क इतना कम रखा गया है कि जिसको गरीब से गरीब प्रदेश का नागरिक भी आराम से प्राप्त कर सकता है।
  •  इस योजना के तहत खाना बनाने के सभी काम साफ सफाई के साथ किए जाएंगे। जिससे कि लोगों को अच्छी गुणवत्ता का भोजन मिले। इसके अलावा सरकार ने कोरोनावायरस को देखते हुए इसके लिए बचाव हेतु रसोइयों पर विशेष प्रावधान किए हैं ।
  • स्थानीय लोगों और संस्थाओं के सहयोग से इंदिरा रसोइयों का संचालन किया जाएगा। इस योजना के अनुसार सरकार ने 4.87 करोड़ लोगों को हर साल खाना खिलाने का target सेट किया है। मोटे तौर पर कहा जा सकता है कि प्रदेश के वे सभी गरीब लोग जो कि अपनी आजीविका भी नहीं कमा सकते। उनके लिए यह योजना बेहद फायदेमंद साबित होने वाली है ।

Also Read This-

Indira Rasoi Yojana 2022
Ladli Laxmi Yojana 2022
PM Solar Rooftop Yojana 

Documents for Indira Rasoi Yojana

आपको बता दें राजस्थान राज्य के सभी गरीबों और जरूरतमंद लोग इस योजना का लाभ ले सकते हैं। इसके लिए उनको किसी भी प्रकार की अपनी पहचान या कोई कागजात दिखाने की जरूरत नहीं है। राजस्थान राज्य के लोग बिना किसी document के राजस्थान इंदिरा रसोई योजना का फायदा उठा सकते हैं। यह राजस्थान सरकार की तरफ से बेहद ही अच्छा निर्णय है।

Eligibility for Indira Rasoi Yojana

  • राजस्थानIndira Rasoi Yojana का लाभ लेने के लिए व्यक्ति को मुख्य रूप से राजस्थान प्रदेश का निवासी होना जरूरी है।
  • राजस्थान प्रदेश के मजदूरों की आर्थिकपीड़ा से जूझ रहे हैं या फिर जो गरीब हैं वही इस योजना का लाभ ले सकते हैं।
  •  इंदिरा रसोई योजना के तहत प्रदेश के उन गरीब लोगों को पौष्टिक खाना दिया जाएगा। जो कि दो समय का खाना भी लेकर नहीं खा सकते ।

Time schedule of eating food in Indira Rasoi Yojana

आपको बता दें राजस्थान सरकार की  Rajasthani Indra Rasoi Yojana के तहत जरूरतमंद लोगों को खाना मिलने का समय भी फिक्स किया हुआ है। एक निश्चित समय पर ही लोगों को खाना मिलेगा। दरअसल सुबह 8:30 बजे से लेकर दोपहर 1:00 बजे तक वह इस योजना का लाभ उठा सकते हैं और पर्याप्त और पौष्टिक खाना खा सकते हैं। इसके अलावा अगर हम रात के भोजन की बात करें तो शाम 5:00 बजे से लेकर रात 8:00 बजे तक Indira Rasoi Yojana के तहत खाना दिया जाएगा। इन दोनों समय अवधि के बीच राजस्थान राज्य के गरीब मजदूर और जरूरतमंद लोग खाना खाकर इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। आपको बता दें शुरुआती दौर में नगर निगम के कुल मिलाकर  450 लोगों को इस योजना का लाभ मिलेगा। जिसके बाद धीरे-धीरे सरकार इस संख्या को बढ़ाने वाली है।

Funding of Rajasthan Indira Rasoi Yojana

आपको बता दें राजस्थान Indira Rasoi Yojana पूरी तरह से funding के लिए खुली रखी गई है। यानी कि कोई भी व्यक्ति या संस्था इस योजना में अपनी श्रद्धा से वह फंड कर सकता है। दरअसल सरकार ने वहां पर मुख्यमंत्री सहायता कोष और जिले के स्तर का एक  registered bank account रखा है। जिसमें सहयोग करने वाले लोग अपनी श्रद्धा से धनराशि सहयोग कर सकते हैं। इसके अलावा कोई भी उद्योगपति या कोई  business  CSR fund  से सहयोग कर सकता है।  इसके बाद वह रसोई को पूरी तरह से चलाने के लिए जन सहभागिता के हिसाब से  पूरी responsibility ले सकते हैं।

Management of Rajasthan Indira Rasoi Yojana

Indira Rasoi Yojana के तहत सरकारी संस्थान और NGO का क्षेत्र खाना बनाने के लिए यूज़ किया जाता है । जिला स्तर पर योजना का संचालन कलेक्टर के हाथ में है। जिला कलेक्टर इस बात की निगरानी रखते हैं कि सब कुछ सही तरह से चल रहा है या नहीं। इसके अलावा अगर किसी क्षेत्र में NGO कोई  businessman अगर  funding करते हैं। तो वह लोग भी management की responsibility ले सकते हैं। लेकिन इंदिरा रसोई में सरकार द्वारा दिए गए सभी निर्देशों को मानना होगा। कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए सरकार ने इसके लिए काफी निर्देश जारी किए हैं। जैसे कि मास्क लगाना , social distencing और sanitization। इन सभी को ध्यान में रखकर ही वहां पर खाना पकाई जाएगा।  इसके अलावा समय-समय पर वहां पर स्वास्थ्य कर्मी की हेल्प की भी जांच कराई जाएगी ताकि लोगों को स्वस्थ खाना मिल सके इस तरह से इंदिरा रसोई योजना की पूरी व्यवस्था की गई है।

Awards For Indra Rasoi Yojana Worker

आपको बता दें इंदिरा रसोई में जॉब करने वाले या वहां पर जो भी हेल्पर होते हैं। उन सभी को award  दिए जाते हैं। जिसमें उनको नगद धनराशि दी जाती है। पहला award ₹21000 का है । तो वही दूसरा award ₹15000 का है। तो वहीं तीसरे श्रेणी के पुरस्कार में ₹11000 की नगद धनराशि इंदिरा रसोई  में जॉब करने वाले कर्मचारी को दी जाएगी। राजस्थान के सरकार ने राजस्थान के नागरिकों के अलावा Indira Rasoi Yojana से जुड़े कर्मचारियों का भी ध्यान रखा है और उनके लिए इनाम की व्यवस्था की है। जिससे कि उनमें एक अच्छा इन्वायरमेंट बना रहे और वह पूरे सम्मान के साथ एक दूसरे के साथ मिलकर काम करें। इंदिरा रसोई के कर्मचारी राजस्थान प्रदेश के गरीब मजदूरों को मजदूरों की तरह ट्रीट नहीं करेंगे। बल्कि उनको पूरे सम्मान के साथ खाना देंगे। इस बात की घोषणा राजस्थान की सरकार पहले ही कर चुकी है।

Indra Rasoi Yojana Application Process

आपको बता दें राजस्थान प्रदेश के गरीबों और जरूरतमंद लोग इस योजना का आराम से लाभ उठा सकते हैं। इसके लिए उनको किसी भी प्रकार के कोई  online and offline आवेदन करने की जरूरत नहीं है। इस योजना के तहत सरकार अलग-अलग जिलों में अलग-अलग कैंटीन की व्यवस्था करेगी। जहां पर अभी गरीब मजदूर लोग जाकर आराम से सिर्फ ₹8 देकर एक प्लेट पोस्टिक से भरा हुआ खाना खा पाएंगे। इसके अलावा और जानकारी के लिए राजस्थान की सरकार ने official website भी जारी की है। official website के अलावा एक helpline number भी है। जिस पर इस योजना से जुड़ी हर तरह की सहायता की जाएगी।

 उम्मीद है अब तक आपको यह सब समझ आ गया होगा कि Indira Rasoi Yojana Kya Hai, कैसे इसमें सब कुछ management है और कैसे इस योजना का लाभ उठाया जा सकता है। अगर आपको इस योजना से जुड़ी कोई अन्य जानकारी चाहिए तो आप official website पर विजिट कर सकते हैं। इसके अलावा हम आपके द्वारा पूछे गए सवालों का नीचे fAQ’s में जवाब देने की कोशिश करेंगे, जिससे कि आपके सारे doubt clear हो जाएंगे।

Official website- Click Here

Frequently Asked Questions

1. Indira Rasoi Yojana 2022 में लोगों को खाने में क्या मिलता है?

Indira Rasoi Yojana Rajasthan के के तहत सौ ग्राम सब्जी, 100 ग्राम दाल, ढाई सौ ग्राम रोटी गरीब और जरूरतमंद लोगों को दी जाएगी।

2. Rajasthan Indira Rasoi Yojana में खाना दिन में कितनी बार मिलता है?

इस योजना के तहत हर रोज दो बार खाना दिया जाएगा.

3. इंदिरा रसोई योजना के तहत सरकार का क्या उद्देश्य है?

कोई भूखा ना सोए’ यही राजस्थान सरकार का इस योजना को चलाने के लिए उद्देश्य है।

4. राजस्थान इंदिरा रसोई योजना कब शुरू हुई थी?

इस योजना की शुरुआत अशोक गहलोत जी ने 20 अगस्त 2020 को की थी।

5. राजस्थान इंदिरा रसोई योजना  के तहत खाना कितने रुपए में मिलता है?

इस योजना के तहत एक समय का खाना ₹8 तो वही दोनों समय का खाना  मात्र ₹16 में दिया जाता है।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

 - 
Arabic
 - 
ar
Bengali
 - 
bn
English
 - 
en
French
 - 
fr
German
 - 
de
Hindi
 - 
hi
Indonesian
 - 
id
Portuguese
 - 
pt
Russian
 - 
ru
Spanish
 - 
es
johnny Depp NetWorth Love doesn’t exists nowadays Selena Gomez NetWorth, age, Career Best Places to Visit in the USA kim kardashian net worth sustainability, global warming